मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021: Up Bal Shramik Vidya Scheme Online Application

शेयर करें

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना ऑनलाइन फॉर्म |बाल श्रमिक विद्या योजना Online Form | बाल श्रमिक विद्या धन योजना |श्रम विभाग की योजनाएं 2021 |UP Bal Shramik Vidya Scheme Online
Registration

जैसे की हम सब जानते है की राज्य सरकार व केंद्र सरकार दोनों श्रमिकों के लिए कुछ न कुछ योजनायें निकालती रहती है | और उन्हें लाभान्वित करती रहती है |

जिससे देश के सभी श्रमिक वर्गों का उत्थान हो सके और आर्थिक रूप से सशक्त बन सके | किन्तु इन योजनाओं के बावजूद अभी भी कई ऐसे श्रमिक वर्ग है जिनका आर्थिक उत्थान नहीं हो पा रहा है |

परिणामस्वरूप उनके परिवार के बच्चे परिवार का भरण पोषण और अपना जीवन व्यापन करने के लिए बचपन से ही मजदूरी में लग जाते है | जिसका प्रभाव उनके शारीरिक और मानसिक पर पड़ रहा  है | ऐसे श्रमिक वर्ग के बच्चे जो बचपन से ही मजदूरी कर रहे है उनकी रूचि पढाई से हट रही है |

धीरे-धीरे करके वे सभी पढाई से दूर होते जा रहे है | जिससे न ही वो देश के विकास में अपना योगदान दे पा रहे है और न ही एक शिक्षित समाज का निर्माण कर पा रहे है | जो हमारे देश के विकास के लिए सही नहीं है |

ऐसी परिस्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने इन सब के कारणों पर ध्यान आकर्षित कर एक योजना की शुरुआत किया है जिसका नाम मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 है |

इस योजनान्तर्गत यूपी के अनाथ बच्चों तथा मजदूरों के बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए आर्थिक मदद किया जायेगा | यह योजना श्रमिक परिवार के बच्चों को अच्छा जीवन प्रदान करने के लिए किया गया है |

इसमें राज्य के श्रमिक वर्ग के बालकों को 1000 रुपये व प्रतिमाह एवं बालिकाओं को 1200 रुपये प्रतिमाह राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराया जायेगा |

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी ने किया है |

नमस्ते दोस्तों आज हमारे इस लेख के जरिये यूपी राज्य की योजना मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे | तो आप सब हमारे इस लेख को अन्त तक जरुर पढ़े जिससे आप सभी को इस योजना के बारे में जानकारी मिल सके और आप सभी इस योजना का लाभ उठा सके |

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना

UP CM Bal Shramik Vidya Scheme 2021 Introduction

इस योजना की शुभारम्भ यूपी राज्य के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने किया है | इस योजनान्तर्गत राज्य के अनाथ और श्रमिक वर्ग के बच्चे जो 8वी, 9वी व 10वी कक्षा में पढ़ रहे है उन्हें शिक्षा के लिए अतिरिक्त वित्तीय सहायता किया जायेगा |

इसमें राज्य के श्रमिक बालिकाओं को प्रतिमाह 1200 रुपये व बालकों को प्रतिमाह 1000 रुपये दिए जायेंगे | जिससे उनकी रूचि पढाई को ओर जाने लगे और अच्छे से पढाई कर देश का विकास में अपना योगदान दे सके |

और एक शिक्षित समाज का निर्माण कर सके | मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 योजना के तहत इस साल करीब 2000 बच्चों को लाभान्वित किया जायेगा | राज्य को जो भी इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है वो योजना में आवेदन कर सकते और योजना का लाभ उठा सकते है |

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2021 UP के मजदूर वर्ग के बच्चों को स्वस्थ जीवन व समृद्ध जीवन जीने के लिए सक्षम बनाएगी |

बच्चों को 8 से 18 वर्ष में स्कूल और कालेजों में होना चाहिए किन्तु आर्थिक दयनीय होने के कारण परिवार व अपना भरण पोषण के लिए बचपन से ही मजदूरी में झुझ जाते है और शिक्षा के क्षेत्र से वांछित हो जाते है | ऐसे ही बच्चों को इस योजनान्तर्गत लाभान्वित किया जायेगा | और उनका उत्थान किया जायेगा |

इन्हें भी देखे – यूपी छात्रवृत्ति

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 का उद्देश्य

जैसे की सब जानते है की राज्य में कई ऐसे मजदूर वर्ग है जिनका आर्थिक स्थिति बहुत दयनीय है | जो अपने परिवार का भरण पोषण रोजी-मंजूरी कर करते है | ऐसे में बच्चों को पढान बहुत मुश्किल हो जाता है |

ऐसे परिस्थिति में श्रमिक वर्ग के बच्चें भी परिवार अपना जीवन व्यापन करने के लिए बचपन से ही मजदूरी करने में लग जाते है | जिससे उनके मानसिक शारीरिक स्थिति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है |

श्रमिक वर्ग के बच्चे पढाई के मार्ग से भटक सिर्फ रोजी-मंजूरी में ही ध्यान देने लगते है | जिससे उनके परिवार का भरण पोषण सही ढंग से हो सके | इन परिस्थितियों से देश सम्पूर्ण रूप से विकास करना और एक शिक्षित समाज का निर्माण करना दोनों मुश्किल हो जाता है |

ऐसे स्थिति को देख कर यूपी सरकार ने इन सब की ओर कदम उठाते हुए UP Bal Vikas Yojana 2021 की शुरुआत किये है | जिसमे राज्य के अनाथ और श्रमीक वर्ग के बच्चों को अतिरिक्त 6000 रूपए दिए जायेंगे |

जिसका उपयोग बच्चे पढाई के क्षेत्र में करेंगे और एक अच्छा और उज्जवल भविष्य का निर्माण कर देश के प्रगति में अपना योगदान देंगे | इसमें प्रदेश के मजदूर बालकों को प्रतिमाह 1000 रुपये एवं बालिकाओं को प्रतिमाह 1200 रुपये देंगे |

यह मासिक वित्तीय सहायता से बच्चे को काम करने से छुटकारा मिलेगा और साथ ही उनके रूचि पढाई की ओर केन्द्रित होने लगेगा | यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है |

ऐसे देखें यूपी बीपीएल लिस्ट की सूचि

Highlights Of UP Baal Shramik Vidya Yojana

योजना का नाममुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी
लाभार्थीराज्य के गरीब बालक बालिका
उद्देश्यआर्थिक सहायता प्रदान करना

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 का आरंभ

इस योजना का शुभारम्भ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने 12 जून 2020 को बाल श्रमिक निषेध दिवस के दिन किया है | इस योजना का प्रमुख उद्देश्य राज्य के श्रमिक व कमजोर वर्ग के बच्चों को अच्छी जीविका प्रदान करना है | योजनान्तर्गत राज्य सरकार द्वारा बच्चों को शिक्षा व खाना दोनों प्रदान किया जायेगा जिससे उनके हलात व भविष्य में सुधार हो |

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 का लाभ

  • इस योजना का लाभ राज्य के अनाथ व गरीब बच्चों को मिलेगा |
  • योजनान्तर्गत राज्य के श्रमिक वर्ग के बच्चें जो 8वी 9वी व 10 वी कक्षा में पढ़ रहे है उन्हें राज्य सरकार द्वारा अतिरिक्त 6000 हजार रुपये का  वित्तीय सहायता मुहैया कराया जायेगा |
  • इसमें बालिकाओं को प्रतिमाह 1200 रुपये एवं बालकों को 1000 रुँपये प्रतिमाह मिलेगा |
  • इस योजना के जरिये 12 जून 2020 को यूपी बाल श्रमिक योजना के अधिकारिक सुभारम्भ के अवसर पर राज्य के 2000 से अधिक बच्चों को धन भेजा जायेगा |
  • उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 के तहत राज्य के बच्चों को लाभान्वित किया जायेगा एवं बाल श्रमिक को रोकने के लिए प्रदेश में यूपी बाल शिक्षा शुरू की जाएगी |

जानिए क्या है उत्तर प्रदेश रोजगार मिशन ?

Up Bal Shramik Vidya Yojana में चयन

  • मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 में बच्चों का चयन श्रम विभाग के अधिकारीयों द्वारा सर्वेक्षण/निरीक्षण में ग्राम पंचायतों, स्थानीय निकाय, चाइल्डलाइन अथवा विद्यालय प्रबंध समिति द्वारा किया जायेगा |
  • यदि बच्चें की माता-पिता दोनों लाइलाज से पीड़ित है तो उन्हें पहले योजनान्तर्गत प्राथमिकता दिया जायेगा | योजना में प्राथमिकता के लिए चीफ मेडिकल officer के द्वारा दिया गया सर्टिफिकेट देना होगा |
  • यदि परिवार भूमिहीन है तो इसका 2011 के जनगणना के आधार पर होगा | 2011 के जनगणना के डेटाबेस का उपयोग कर लाभार्थियों का चयन किया जायेगा |
  • मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 में लाभार्तियों के चयन के बाद इसे इ-ट्रैकिंग सिस्टम में दर्ज किया जाता है |

उत्तर प्रदेश बाल विकास श्रमिक योजना में जरुरी दस्तावेज

  • लाभार्थी उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिए |
  • आवेदक की आयु 8 से 18 वर्ष होना चाहिए |
  • लाभार्थी का आधार कार्ड |
  • लाभार्थी का पहचान पत्र |
  • लाभार्थी का निवास प्रमाण पत्र |
  • लाभार्थी का mobile नम्बर |
  • लाभार्थी का पासपोर्ट size फोटो |

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना में आवेदन प्रक्रिया

यूपी राज्य के जितने भी मुख्यमंत्री बाल विकास श्रमिक विद्या योजना के लिए  इच्छुक लाभार्थी है उन्हें अभी थोडा इन्तेजार करना होगा | क्यूंकि अभी इस योजना की घोषणा हुई है |

इस योजना में आवेदन प्रक्रिया अभी तक प्रारंभ नहीं हुआ है | UP Bal Shramik Vidya Yojana 2021 में जैसे ही आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ होगा वैसे ही हम हमारे इस article के जरिये आपको सूचित कर देंगे | जिससे आप सब इस योजना में आवेदन कर सके और आप सब इस योजना के जरिये वित्तीय सहायता प्राप्त कर सके |

कांटेक्ट इनफार्मेशन

हेलो दोस्तों हमने आज हमारे इस लेख के माध्यम से उत्तर प्रदेश सरकार की योजना मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 के बारे में पूरी जानकारी प्रदान किये है | यदि आप अभी इस योजना से जुड़े किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे है तो आप यहाँ दिए गये लिंक पर जाकर अपना समस्या का समाधान कर सकते है |


शेयर करें

Leave a Comment