{online information} भावान्तर भुगतान योजना की जानकारी ऑनलाइन आवेदन 2020-21 Bhavantar Bhugtaan Yojana

शेयर करें

भावान्तर योजना पंजीयन लिस्ट | Bhavantar Bhugtan Yojana MP Online | भावांतर भुगतान योजना ऑनलाइन आवेदन | Bhavantar Bhugtan Yojana Application Form | मध्य प्रदेश भावांतर भुगतान योजना रजिस्ट्रेशन

भावंतर भुगतान योजना मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही है | इस योजना में मध्यप्रदेश को किसानो को उनको फसलों का सही दाम मिलेगा | अर्थात भावान्तर भुगतान योजना में किसानो को होने वाली नुकसान को रोका जायेगा और उनको फसलों की सही कीमत मिलेगा |

 भावान्तर भुगतान योजना किसानो की उनकी फसलों का सही लाभ पहुचने के युद्देश्य से चलाया जा रहा है | इस योजना में राज्य सरकार द्वारा किसानो के बैंक खाते में बिक्री मूल्य (मंडियों में) और लाभ कारी मूल्य के बीच के अंतर का भुगतान किया जायेगा | और इस अंतर को किसान भाई भावान्तर भुगतान योजना के माध्यम से पा सकता है |

यदि ध्यप्रदेश के कोई किसान भाई अपने किसी भी फसल को बाजार में न्यूनतम समर्थन मूल्य(MSP) की तुलनात्मक रूप से कम कीमत में बेचता है तो उस किसान भाई को सामान्य कीमत से उनको हानि होगी और इसी हानि को पाने के लिए या करवर करने के लिए Bhavantar Bhugtaan Yojana में आवेदन कर सकता है |

नमस्ते!! किसान भाइयो आज हम आप सब को इस आर्टिकल के माध्यम से एक बेहतर योजना के बारे में बताने जा रहे है , जिसका नाम है भावान्तर भुगतान योजना | तो आप सब इस योजना के बारे में पूरी जानकारी जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़िए |

MP Bhavantar Bhugtaan Yojana Online Registration

मध्यप्रदेश जो भी किसान भाई इस योजना का लाभ उठान चाहते है वे इस योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते है | ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लाभार्थी के पास खुद का बैंक अकाउंट होना चाहिए और बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए | ई – उपार्जन के माध्यम से बीते पांच वर्षों में कुल 118.57 लाख किसानो का न्यूनतम समर्थन मूल्य के लिए  निशुल्क रजिस्ट्रेशन किया गया है और उनमे से 64.35 लाख किसानो से 2415.62 लाख एम् टी. अनाज ख़रीदा गया , और उन्हें 69111 रुपये करोड़ का भुगतान किया गया |

भावान्तर भुगतान योजना में भुगतान को सीधे किसान भाईओं के बैंक खाते में ट्रान्सफर किया जा रहा है | मध्यप्रदेश सरकार इस योजना में आवेदन करने के लिए ऑनलाइन के माध्यम से ई-उपार्जन के आधिकारिक साईट में आमंत्रित कर रही है | mp के कोई इच्छुक लाभार्थी इस योजन में आवेदन करना चाहते है तो वे इस पोर्टल में जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है और इस योजना का लाभ ले सकते है |

भावान्तर भुगतान योजना में शामिल किये गए फसलें

  1. खरीफ की फसलों के समर्थन मुल्य में आने वाली फसलें इस प्रकार है :-
    1. धान, उड़द, तुअर, और मुंग |
  2. भावान्तर भुगतान योजना अंतर्गत खरीफ फसलों में सामिल फसलें इस प्रकार है :-
    1. मक्का, सोयाबीन, ज्वार, बाजरा, मूंगफली, तिल, और रामतिल |
  3. कपास, मुंग, गेहू, उड़द, बाजार, चावल, ज्वार, सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का, और तुर ,दाल सहित, 13 फसलों के लिए राज्य में भावान्तर भुगतान योजना प्रारंभ किया गया है |
  4. यह योजना सुनिश्चित करेगी की किसानो को उनके उत्पादनों के लाभकारी मूल्य मिले |

मध्यप्रदेश भावान्तर भुगतान योजना के बारे में

वर्तमान समय में किसान भाईओं को फसल का सही कीमत नहीं मिल  पा रहा  है | जिससे   किसान भाई खेती करने के लिए ऋण की राशी को चुका नहीं पा रहे है | और इन्ही कारणों से कई किसान भाईओं ने आत्महत्या जैसे कदम उठाते है | ऐसे घटनाओं को देखते हुए मध्यप्रदेश सरकार ने भावान्तर भुगतान योजना प्रारंभ किया है | इस योजना के अंतर्गत किसान भाईओं उनके फसल का सही कीमत मिलेगा और किसान भाइयों की आत्महत्या जैसे घटनाओं को रुका जा सकेगा |

इस योजना को पहली बार पिछले साल के अक्टूबर 2019 कृषि के गिरते दामो को रोकने और किसानो को लाभ पहुचने हेतु शुरुवात किया गया था | इस योजना में किसानो को वित्तीय सहायता दिया गया | इस साल भी फसलों के गिरते दामो के संकट को रोकने के लिए इस योजना सुरुवात किया गया था | इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 28 जुलाई से 31 अगस्त तक हुआ |

भावान्तर भुगतान योजना का मुख्य उद्देश्य किसान भाईओं को उनके फसल का सही दाम दिलाना , वित्तीय सहायता करना, और उनके फसल से सम्बंधित परेशनी का समाधान करना है | जिससे उन्हें किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े |

योजना का नाम मुख्यमंत्री भावान्तर भुगतान योजन
राज्य मध्यप्रदेश
लांच की तारीख साल 2017
लाच की गयी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा
लाभार्थी राज्य के किसान
न्यूनतम समर्थन मूल्य का निर्धारणमध्यप्रदेश कृषि उत्पादन लागत और विपरण आयोग द्वारा
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://mpuparjan.nic.in/

मध्यप्रदेश भावान्तर भुगतान योजना के क्या-क्या लाभ है?

  1. भावान्तर भुगतान योजना लाभ मध्यप्रदेश के किसानो को मिलेगा |
  2. इस योजना से राज्य सरकार द्वारा किसानो को आर्थिक सहायता मिलेगा उनकी आय में वृद्धि होगी | जिससे वो आने वाले साल में भी बिना किसी रुकावट के बुआई कर सकते है |
  3. इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो को उनके बैंक खाते में बिक्री मूल्य (मंडियों में ) और लाभकारी मूल्यों के बीच के अंतर का भुगतान करेगी | जिससे किसानो को किसी भी प्रकार का हानि नहीं उठाना पड़ेगा |
  4. भावान्तर भुगतान योजना में सरकार (भाव + अंतर ) घाटे की पूरी कीमत किसानो भुगतान करेगी | जो न्यूनतम समर्थन मूल्यों (MSP) के निचे कृषि उत्पादन बेचते समय नुक्सान को उठाते है |
  5. यह योजना जमींन सीमा और उत्परिवर्तन से संबंधित मामलो को तीन महीने के भीतर संबोधित का निर्णय करेगी |
  6. इस योजना के अंतर्गत फसल की लाभकारी किमत का सुझाव मध्य प्रदेश कृषि उत्पादन लागत और विपानन योग द्वारा किया जायेगा |

2020 में खरिफ फसल की सूचि कुछ इस प्रकार है

  1. धान ग्रेड ए – 1770 रुपये प्रति क्विंटल |
  2. धन – 1750 रुपये प्रति क्विंटल|
  3. सोयाबीन -3,399 रुपये प्रति क्विंटल |
  4. मक्का – 1,700 रुपये प्रति क्विंटल (500 रु/क्विंटल भावान्तर मिलेगा )|
  5. बाजरा – 1950 रुपये प्रति क्विंटल |
  6. अरहर – 5675 रुपया प्रति क्विंटल |
  7. ज्वार हाइब्रिड – 2430 रुपये प्रति क्विंटल |
  8. ज्वार मल्मंदी – 2450 रुपये प्रति क्विंटल |
  9. कपास मधयम रेशा – 5150 रुपये प्रति क्विंटल |
  10. कपास लम्बा रेशा – 5450 रुपये क्विंटल (500रु/क्विंटल फलते भावान्तर मिलेगा )|
  11. मूंगफली – 4,890 रुपये प्रति क्विंटल रुपये |
  12. तिल – 5,675 रुपये प्रति क्विंटल |
  13. उड़द -5,600रुपये प्रति क्विंटल |
  14. तुअर – 5675 रुपये प्रति क्विंटल |
  15. रामतिल -5,877 रुपये प्रति क्विंटल |

2020 में रबी फसल के समर्थन मूल्य कुछ इस प्रकार है

  1. लहसुन – 3200 रुपये प्रति क्विंटल (अनुमानित ) |
  2. मसूर -4,250 रुपये प्रति क्विंटल |
  3. प्याज -8 रुपये प्रति क्विंटल |
  4. तुअर माडल रेट = 3860रु/कुंतल (1 से 30 अप्रेल 2018तक )
  5. चना -4,400रुपये प्रति क्विंटल |
  6. गेहूं का समर्थन मूल्य – 2000रूपये /क्विंटल |

भावान्तर योजना के लिए क्या-क्या दस्तावेज आवश्यक है

  • लाभार्थी के पास बैंक अकाउंट होना चाहिए |
  • आधार कार्ड होना चाहिए |
  • बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए |
  • लाभार्थी को मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए |
  • सबसे प्रमुख लाभार्थी को किसान होना चाहिए |
  • निवास प्रमाण प्रत्र होना चाहिए |
  • पहचान पत्र होना चाहिए |
  • मोबाइल नंबर होना चाहिए |
  • सिकमी / पट्टा भूमि के मामले में , प्राधिकरण का पत्र और मूल भुमि मालिक की ऋण पासबुक होन चाहिए |
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो होना चाहिए |

भावान्तर भुगतान योजना 2020 में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे

मध्यप्रदेश के जो भी लाभार्थी इस योजना का लाभ लेना चाहते है वे इस योजन आवेदन निचे दिए प्रोसेस को फोल्लो करके कर सकते है :-

  • इसके लये आवेदक सबसे पहले इ –उपार्जन के ऑफिसियल साईट में जाये |
  • साईट में जाने के बाद इसका होम पेज खुलेगा |
  • इस होम पेज में आपको खरीफ फसल 2019-2020 का आप्शन दिखेगा |
  • इस आप्शन पर क्लिक करे |
  • क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुलेगा |
  • इस पेज में खरीफ उपार्ज वर्ष 2019-2020 हेतु किसान पंजीयन दिखाई देगा |
  • इस आप्शन पर क्लिक करे |
भावान्तर भुगतान योजना
  • इस आप्शन पर फिर से क्लिक करने पर आपके सामने एक पेज खुलेगा |
  • इस पेज में पूछे गए सारे जानकारी को धयान पूर्वक पढ़े और इसे भरे |
  • इस पेज में आधार कार्ड , केप्चा , आदि भरे |
  • जानकारी भरने के बाद पंजीकरण बटन पर क्लिक करें |
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पंजीकरण का फार्म खुल जायेगा |
  • इस फार्म में पूछे गए जानकारी को अच्छे से भरे |
  • जानकारी के बाद सब्मिट बटन पर क्लिक करे |
  • इस प्रकार आप भावान्तर भुगतान योजना 2020 में आवेदन कर सकते है |
भावान्तर भुगतान योजना panjiyan

हमें उम्मीद है ये जानकारी आपको अच्छी लगी होगी तो कृपया जल्द से जल्द ये जानकारी अपने परिवार और दोस्त के साथ जरुर share करें |


शेयर करें

headdead05@gmail.com

नमस्ते किसान भाइयो, मेरा नाम अनिल है और मै इस वेबसाइट का लेखक और साथ ही साथ सह-संस्थापक भी हूँ, Education की बात करें तो मै graduate हूँ, मुझे किसानो और ग्रामीणों की मदद करना अच्छा लगता है इसलिए मैंने आप लोगो की मदद के लिये इस वेबसाइट का आरम्भ किया है आप हमे सहयोग देते रहिये हम आपके लिए नयी-नयी जानकारी लाते रहेंगे | #DIGITAL INDIA

View all posts by headdead05@gmail.com →

One thought on “{online information} भावान्तर भुगतान योजना की जानकारी ऑनलाइन आवेदन 2020-21 Bhavantar Bhugtaan Yojana

प्रातिक्रिया दे